Thursday , 25 April 2019
Loading...
Breaking News

भाजपा ने शुक्रवार को 177 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने शुक्रवार को 177 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी. इस लिस्ट में कई बड़े नेताओं का नाम शामिल नहीं किया गया है, जबकि कुछ नए चेहरों को लिस्ट में स्थान दी गई है. बीजेपी के कई नेता ​लिस्ट में अपना नाम कटने से भड़के हुए हैं, तो कुछ नेताओं ने तो नाम कटने पर पार्टी को ही खरी—खोटी सुना दी.

खबरों के अनुसार शुक्रवार को जारी लिस्ट में रतलाम ग्रामीण विधानसभा सीट से वहां के महान नेता  बीजेपी विधायक मथुरा लाल डामर को टिकिट नहीं दिया गया है. उनकी स्थान पार्टी ने दिलीप मकवाना को अपना प्रत्याशीा बनाया है. जब लिस्ट में अपना नाम आने पर ​दिलीप मकवाना, मथुरा लाल डामर के घर आशीर्वाद लेने गए, तो मथुरा लाल डामर ने गुस्से में उन्हें खूब खरी—खोटी सुनाई  वापस लौटा दिया. डामर ने मकवाना से बोला कि तुम कार्यकर्ता नहीं, बल्कि कर्मचारी हो  डेढ़ करोड़ रुपये देकर तुमने टिकिट पाया है. बीजेपी पार्टी तो कार्यकर्ता को टिकिट देने की बात करती है, लेकिन कार्यकर्ता का टिकिट काटकर कर्मचारी को टिकिट दे रही है.

इसके साथ ही ऐसी भी खबरें आ रही हैं कि आगर मालवा—सुसनेर विधानसभा सीट से बीजेपी के पूर्व विधायक संतोष जोशी को भी टिकिट नहीं दिया गया है. टिकिट न मिलने से भड़के संतोष जोशी ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है. उनकी इस घोषणा से भाजपा में हड़कंप मच गया है. ऐसी आशंका जताई जा रही है कि टिकिट न मिलने से नाराज बीजेपी के अन्य नेता भी ​बगावत का बिगूल फूंक सकते हैं.

loading...