Wednesday , 14 November 2018
Loading...

शाह ने नक्सलवाद को लेकर कांग्रेस पर किया पलटवार

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने नक्सलवाद को लेकर कांग्रेस पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी छत्तीसगढ़ में में व्याप्त नक्सलवाद को क्रांति की संज्ञा देती है. वह देश की जनता को स्पष्ट करे कि यह कैसी क्रांति है।

Loading...

अमित शाह ने कहा कि सत्ता के लिए नक्सलवाद को क्रांति कहकर समर्थन देने वाले कांग्रेसी समझ लें कि गरीब की भूख दूर करना क्रांति है, जो इस राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किया है।

loading...

छत्तीसगढ़ के खुज्जी विधानसभा के अंबागढ़ चौकी में सभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से 5 लाख का नि:शुल्क ईलाज गरीबों को देना क्रांति है। क्रांति तब होती है जब किसान के फसल का उचित समर्थन मूल्य दिया जाए। क्रांति तब होती है जब मेहनतकश, मजदूर, किसान के हक में डाका डालने वाले बिचौलिए समाप्त हो जाएं।

अमित शाह ने कहा कि छत्तीसगढ़ देश का एकमात्र राज्य है जहां बजट विगत 15 वर्षो में 9000 करोड़ से 92125 करोड़ रुपये हो गया। छत्तीसगढ़ राज्य में 4000 मेगावाट पैदा होने वाली बिजली आज बढ़कर 22600 मेगावाट हो गई है। प्रतिव्यक्ति आय 13000 रुपये से बढ़कर 92000 रुपये हो गई है।

इसे भी पढ़ें :

पूर्व इसरो प्रमुख माधवन नायर हुए बीजेपी में शामिल, अमित शाह ने दिलाई सदस्यता

छत्तीसगढ़ में 16 नक्सलवादी गिरफ्तार, दो महिला नक्सली भी शामिल

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ दौरे में मोबाइल वितरण व मेड इन छत्तीसगढ़ की बात पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राहुल बाबा को विकास दिखाई नहीं देता क्योंकि वे अंधेरा देखने के आदी हैं। तभी तो पूरे देश और दुनिया को रौशन करने वाली बिजली की चमक उन्हें दिखाई नहीं देती।

गौरतलब है कि यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर ने शनिवार को रायपुर में मीडिया से कहा था कि गोलियां और बंदूकें नक्सलवाद का हल नहीं कर सकती है। धमकाकर, डराकर इस समस्या का हल नहीं निकाला जा सकता है। ऐसे लोगों को नहीं रोका जा सकता है जिन्होंने क्रांति की शुरूआत कर दी है। हालांकि, राज बब्बर ने इस मुद्दे पर अपनी सफाई भी दी थी।

Loading...
loading...