Thursday , 23 May 2019
Loading...
Breaking News

ईवीएम की सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवालों के बीच एक बार फिर भाजपा-कांग्रेस आमने सामने

ईवीएम की सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवालों के बीच एक बार फिर भाजपा-कांग्रेस आमने सामने आ गए हैं। अबकी बार बवाल तब शुरू हुआ जब बेमेतरा जिला के स्ट्रांग रूम के पास एक बीएसएफ जवान को लैपटॉप का उपयोग करते हुए कांग्रेसियों ने देखा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्ट्रांग रूम के बाहर जमकर हंगामा किया। आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने बीएसएफ के जवान को गिरफ्तार कर पूछताछ करने की मांग तक कर दी। विवाद बढ़ता देख आनन-फानन में इसकी सूचना जिले के कलेक्टर को दी गई, जिसके बाद कलेक्टर महादेव कावरे भी मौके पर पहुंचे।

इस मामले में साजा विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी रविंद्र चौबे ने बताया कि मंगलवार शाम को स्ट्रांग रूम के पास एक पुलिस अधिकारी लैपटाप चला रहा था। जो कि पूरी तरह से गलत है। कोई भी स्ट्रांग रूम के आसपास ऐसा नहीं कर सकता। कलेक्टर से शिकायत करने पर उन्होंने इसे हल्के में लिया है। रविन्द्र चौबे ने कहा कि उस अधिकारी को तुरंत गिरफ्तार करना चाहिए। ऐसे मामले में कलेक्टर को हल्के में नहीं लेना चाहिए। तत्काल लैपटॉप जब्त करके एक्सपर्ट को दिखाना चाहिए। कांग्रेस कार्यकर्ताओं की शिकायत के बाद कलेक्टर महादेव कावरे ने बीएसएफ जवान से लैपटॉप जब्त कर लिया। वहीं, कांग्रेसियों के हंगामे के बाद एसपी ने स्ट्रांग रूम की सुरक्षा बढ़ा दी है।

बेमेतरा कलेक्टर महादेव कावरे ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद जवान से लैपटॉप को जब्त कर लिया गया है। साथ ही पूछताछ के बाद बीएसएफ के जवान के ऊपर कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि प्रदेश कांग्रेस ईवीएम के साथ छेड़खानी की शिकायत को लेकर लगातार चुनाव आयोग पहुंच रहे हैं।

loading...