Friday , 22 March 2019
Loading...

इस वजह से रोहतक की सुनारियां जेल में रातभर करवटें बदलते रहे गुरमीत सिंह

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में विशेष सीबीआई अदालत द्वारा सिरसा डेरा प्रमुख गुरमीत सिंह को दोषी ठहराने के बाद उन्हें शुक्रवार पूरी रात नींद नहीं आई। सूत्रों के अनुसार रोहतक की सुनारियां जेल में वे रातभर वे करवटें बदलते रहे। डेरा प्रमुख की स्थिति को देखकर जेल प्रशासन भी अलर्ट हो गया और निगरानी के लिए सहायकों की संख्या बढ़ाई गई। छत्रपति हत्याकांड में दोषी ठहराने के बाद डेरा प्रमुख की दशा काफी चिंताजनक बताई जा रही है। शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग में पेशी के दौरान उनका चेहरा उतरा हुआ था और नजरें झुकी हुई थी। अदालत की कार्रवाई के दौरान उनका चेहरा एक भी ऊपर नहीं उठा। इसके गवाह उनके पूर्व ड्राइवर खट्टा सिंह हैं, जो सुनवाई के दौरान अदालत में मौजूद थे।

बता दें कि शुक्रवार को विशेष सीबीआई अदालत ने डेरा प्रमुख सहित चार लोगों को पत्रकार रामचंद्र की हत्या मामले में दोषी करार दिया था। दोषी किशन लाल, कुलदीप व निर्मल सिंह को तुरंत पुलिस हिरासत में ले लिया गया था, जबकि डेरा प्रमुख पहले ही साध्वियों के यौन शोषण मामले में रोहतक की सुनारियां जेल में बंद है।

अहम पहलू यह भी है कि छत्रपति हत्याकांड में 16 वर्षों के लंबे संघर्ष के बाद फैसला आया है। 17 जनवरी को अदालत की ओर से चारों दोषियों को सजा सुनाई जाएगी।

loading...