Tuesday , 23 April 2019
Loading...
Breaking News

नगर पालिका अध्यक्ष प्रह्लाद बंधवार हत्याकांड की शुरू हुई ये जांच

मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष प्रह्लाद बंधवार हत्याकांड की SIT जांच शुरू हो गयी है. जांच टीम मंदसौर पहुंच गयी है. वो घटना स्थल का दौरा कर बंधवार के परिचितों, घटना से जुड़े तमाम पहलुओं और लोगों से बाचतीच करेगी.सोमवार लुबह टीम मंदसौर पहुंच गयी है. टीम में 5 लोग शामिल हैं.


मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष प्रह्लाद बंधवार हत्याकांड की जांच के लिए SIT की टीम ने यहां पहुंचते ही पड़ताल शुरू कर दी. इस टीम में 5 लोग शामिल हैं. पुलिस महा निरीक्षक डी श्रीनिवास के नेतृत्व में 5 सदस्यीय टीम आयी है. इसमें डीआईजी राजीव मिश्रा, डीएसपी पवन मिश्रा, निरीक्षक मुख्तार कुरैशी और ज्योति शर्मा शामिल है. पुलिस महानिरीक्षक डी श्रीनिवास सुबह मंदसौर पहुंचे और उन्होंने घटना के संबंध में पुलिस अधिकारियों से चर्चा शुरू कर दी.

SIT की ये टीम हत्याकांड से जुड़े हुए तमाम पहलू और हत्या कांड से जुड़े अन्य व्यक्तियों से पूछताछ करेगी. एसआईटी जांच से ये उम्मीद है कि इस हत्याकांड से जुड़ी अगर कोई औऱ साज़िश होगी तो उसका भी ख़ुलासा हो जाएगा. हत्याकांड के बाद से प्रह्लाद बंधवार के परिवार वाले लगातार शंका ज़ाहिर कर रहे हैं कि इसके पीछे कोई और गहरी साज़िश है. बीजेपी ने भी षड्यंत्र की आशंका जताए थी. हत्याकांड की सीबीआई जांच की मांग तक उठी थी. कांग्रेस नेताव दिग्विजय सिंह ने भी मंदसौर दौरे के दौरान कहा था कि इस हत्याकांड के पीछे कोई ना कोई रहस्य सामने आएगा.

मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष प्रह्लाद बंधवार की 17 जनवरी की शाम गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. वो शाम के वक्त एक भीड़ भरे बाज़ार में दुकान के बाहर खड़े थे तभी बाइक सवार एक युवक ने उन्हें गोली मार दी थी. बंधवार की वहीं मौके पर मौत हो गयी थी. हत्या का आरोप बीजेपी कार्यकर्ता मनीष बैरागी पर लगा जिसे बाद में गिरफ़्तार कर लिया गया. मनीष ने पुलिस को बताया था कि बंधवार से उसका पैसों के लेन-देन का झगड़ा था. नगर पालिका चुनाव के दौरान बैरागी ने बंधवार को पैसे दिए थे, जिसे बंधवार लौटा नहीं रहे थे.

loading...