Saturday , 23 March 2019
Loading...
Breaking News

बीजेपी में शामिल होने के बाद टॉम वडक्कन ने कहा- मैंने 20 वर्ष कांग्रेस पार्टी… 

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले कांग्रेस पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व को बड़ा झटका लगा है कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता टॉम वडक्कन गुरुवार को भाजपा में शामिल हो गएकेंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भाजपा में आने पर उनका स्वागत किया टॉम वडक्कन केरल के त्रिशूर जिले से आते हैं टॉम वडक्कन बहुत ज्यादा लंबे से कांग्रेस पार्टी में रहे हैं, वह पूर्व कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के व्यक्तिगत सहायक रहे हैं वडक्कन लंबे समय तक कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रहे हैं राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद भी वह उनके करीबी माने जाते हैं

बीजेपी में शामिल होने के बाद टॉम वडक्कन ने कहा, ‘ मैंने 20 वर्ष कांग्रेस पार्टी को दिए कांग्रेस पार्टी में वंशवाद की पॉलिटिक्स हावी है पुलवामा हमले के बाद कांग्रेस पार्टी के रुख से मैं बहुत ज्यादा दुखी हूं कांग्रेस पार्टी पुलवामा हमले पर पॉलिटिक्स कर रही है मैं भारी मन से कांग्रेस पार्टी को छोड़ रहा हूं पाकिस्तानी आतंकवादियों का हमारी जमीन पर हमला आप उस पर पॉलिटिक्स करते हैं ‘

उन्होंने बोला कि जब आप राष्ट्र की सेनाओं पर सवाल उठाते हैं तो इससे दुख होता है कांग्रेस पार्टी  छोड़ना  भाजपा में शामिल होना विचारधारा की बात नहीं है, यह राष्ट्र प्रेम की बात है टॉम वडक्कन पूर्व पीएम  दिवंगत कांग्रेस पार्टी नेता राजीव गांधी के सहायक भी रहे हैं

इससे पहले संयुक्त देश सुरक्षा परिषद (UNSC) आतंकवादी मसूद अजहर पर चाइना के रुख के बाद कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा पीएम मोदी से सवाल किए जाने का भाजपा ने करारा जवाब दिया है भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने बोला है कि जब भी हिंदुस्तान को तकलीफ होती है तो राहुल गांधी को बहुत खुशी होती है उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी को पता होना चाहिए कि विदेश नीति ट्विटर से नहीं चलती है उन्होंने बोला बड़े अफसोस के साथ ये कहना पड़ रहा है कि आतंकवाद केे विरूद्ध लड़ाई में कांग्रेस पार्टी कभी भी गंभीर नहीं होती है राहुल गांधी जी आज आपकी विरासत के कारण ही चाइना सुरक्षा परिषद का सदस्य है ‘

केंद्रीय मंत्री ने बोला ‘आतंकवादी मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकवादी घोषित करने पर आज चाइना को छोड़कर पूरी संसार हिंदुस्तान के साथ खड़ी है ये एक तरह से हिंदुस्तान की कूटनीतिक जीत है मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकवादी घोषित करने के लिए इस बार प्रस्ताव अमेरिका, ब्रिटेन  फ्रांस लेकर आए, चाइना को छोड़कर बाकी सभी राष्ट्रों ने इस प्रस्ताव को सपोर्ट किया चाइना के इस कदम से हिंदुस्तान  भारतवासी बहुत दुखी हैं ‘

उन्होंने कहा, ‘क्या मसूद अजहर जैसे नृशंस हत्यारे के मामले में कांग्रेस पार्टी का स्वर दूसरा होगा? राहुल गांधी के ट्वीट से ऐसा लगता है कि उन्हें इस बात से खुशी है हिंदुस्तान को जब भी पीड़ा होती है तो राहुल खुश क्यों होते हैं?’ रविशकंर प्रसाद ने कहा, ‘राहुल गांधी से मेरा सवाल है कि 2009 में यूपीए के समय में भी चाइना ने मसूद अजहर पर यही टेक्निकल ऑब्जेक्शन लगाया था, तब भी आपने ऐसा ट्विटर हैंडल से लिखा है था क्या?

loading...