Thursday , 25 April 2019
Loading...
Breaking News

बीजेपी नेता पबुभा मानेक की इस अपील पर 22 अप्रैल को सुनवाई करेगा  कोर्ट

गलत नामांकन लेटर भरने के कारण 2017 में द्वारका से के निर्वाचन को खारिज करने वाले निर्णय के विरूद्ध दायर अपील पर उच्चतम कोर्ट सुनवाई के लिए राजी हो गया है उच्चतम कोर्ट बीजेपी नेता पबुभा मानेक की इस अपील पर 22 अप्रैल को सुनवाई करेगा मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई वाली पीठ ने बोला कि वह अगले सोमवार को भाजपा नेता पबुभा मानेक की अपील पर सुनवाई करेगी

ने दोषपूर्ण नामांकन लेटर दायर करने के लिए मानेक के निर्वाचन को 12 अप्रैल को रद्द कर दिया था  इस सीट से उपचुनाव का आदेश दिया था में मानेक की जीत को उनके प्रतिद्वंद्वी  कांग्रेस पार्टी उम्मीदवार मीरामनभाई गोरिया ने उच्च कोर्ट में चुनौती दी थी जिसके बाद न्यायालय की एकल पीठ के न्यायाधीश परेश उपाध्याय ने मानेक इस मामले में निर्णय दिया था

मानेक के प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस पार्टी उम्मीदवार मीरामनभाई गोरिया का आरोप था कि 2017 के गुजरात  अपने निर्वाचन एरिया का नाम नामांकन लेटर में नहीं लिखा था, जिसकी वजह से उनका नामांकन अमान्य हो जाता है इसलिए मानेक की स्थान उन्हें द्वारका से निर्वाचित उम्मीद्वार घोषित किया जाना चाहिए कांग्रेस पार्टी उम्मीदवार मीरामनभाई गोरिया का कहना था कि इस मामले में उन्होंने रिटर्निंग अधिकारी के सामने भी असहमति दर्ज कराई थी, जिसे ऑफिसर ने खारिज कर दिया था

बीजेपी के पबुभा माणेक ने कांग्रेस पार्टी के अहीर मेरामन को 5700 से ज्यादा वोटों से हराया था पबुभा माणेक 2012  2007 में भी भाजपा के टिकट से ही इस सीट से विधायक चुने गए थे जबकि 2002 में पबुभा माणेक कांग्रेस से विधायक रहे थे इससे पहले वह निर्दलीय के तौर पर इस सीट से लगातार तीन चुनाव जीत चुके है वर्ष 1990,1995  1998 में वह निर्दलीय एमएलए चुने गए थे

loading...