Friday , 24 May 2019
Loading...
Breaking News

रैली के दौरान अमित शाह की सुरक्षा में तैनात हुए इतने सीआरपीएफ कमांडोज

सातवें  की 9 सीटों पर मतदान होना है अभी तक हुए 6 चरणों के मतदान में कोई भी चरण शांतिपूर्ण ढंग से नहीं हुआ है मतदान के दौरान भाजपा  प्रदेश की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस पार्टी के बीच लगातार हिंसक प्रयत्न देखने को मिला है मंगलवार (14 मई) को कोलकाता में के रोड शो के दौरान भी टीएमसी  भाजपा समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को बंगाल के रैली के दौरान अमित शाह की सुरक्षा में सीआरपीएफ के 25 कमांडोज तैनात किए गए थे

सूत्रों के मुताबिक, सुरक्षा में तैनात सिक्योरिटी फोर्सेज के कमांडोज को पहले से जानकारी दी गई थी कि जिस तरह से लगातार बंगाल में चुनावी हिंसा हो रही है, ऐसे में अमित शाह के रोड शो के दौरान सुरक्षा घेरे को बेहद कठोर रखने को बोला गया था जब रोड शो के दौरान हिंसा प्रारम्भ हुई तो फौरन हरकत में आए क्लोज प्रोटेक्शन में लगे कमांडोज ने अमित शाह को रोड शो से हटाकर सुरक्षित स्थान ले गए थे

सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार, गृह मंत्रालय ने अमित शाह को आईबी इनपुट के आधार पर खतरे को देखते हुए जेड प्लस कैटेगरी की सुरक्षा दी हुई है, जिसमें सीआरपीएफ के बेहद प्रशिक्षित क्लोज प्रोटेक्शन कमांडोज सुरक्षा देते हैं जिस दौरान कोलकाता में हिंसा हुई उस समय अमित शाह के साथ सीआरपीएफ के पांच सुरक्षाकर्मी उस रोड शो में उपस्थित थे

आपको बता दें कि मंगलवार (14 मई) को कोलकाता में के रोड शो के दौरान भी टीएमसी  भाजपा समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हुई भाजपा का बोलना है कि इस हिंसा में पार्टी के 100 से ज्यादा कार्यकर्ता घायल हुए हैं अमित शाह ने इस मामले पर आज ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला किया उन्होंने हिंसा करने वालों पर कार्रवाई नहीं करने पर चुनाव आयोग पर भी निशाना साधा भाजपा का आरोप है कि यह हमला टीएमसी की विद्यार्थी ईकाई ने करवाया है

loading...